अमेठी में 2 घंटे के अंदर दिनदहाड़े 2 बड़ी लूट, हांफती दिखी पुलिस

CRIME उत्तरप्रदेश और उत्तराखण्ड क्षेत्रीय समाचार

अमेठी (जनमत) : कानून-व्यवस्था को लेकर सीएम योगी से लेकर डीजीपी तक दावे करते हैं लेकिन अमेठी जिले में जमीनी हकीकत कुछ और ही है जनपद में करीब 2 घंटे के अंदर एक के बाद एक हुई दो लूट की घटनाओं से जिले में दहशत का माहौल है।

अमेठी जिले में 2 घंटे के अंदर दो लूट की वारदातें हो गयी बेखौफ बदमाश न सिर्फ पुलिस को चुनौती दे रही है बल्कि पुलिस की कार्यप्रणाली पर भी सवाल उठ रहे है एक तरफ जहां प्रदेश की योगी सरकार अपराधियों पर लगाम लगाने के लिए एनकाउंटर करवा रही है वहीं दूसरी तरफ जिले में इस तरह की घटनाओं से जनपदवासियों का जीना मुहाल हो गया है ।

वारादात :- 1

जानकारी के मुताबिक गाँव पिंडारा ठाकुर थाना मुसाफिरखाना जिला-अमेठी निवासी आशीष मिश्रा पुत्र राजेश मिश्रा आज सुबह  करीब 8:30 बजे अपने गाँव से मोटरसाइकिल द्वारा दुर्गन भवानी दर्शन करने  जा रहे थे इसी दौरान मोटर सवार दो बदमाशों ने बगिया बहोरखा पावर से थोड़ा पहले ही उसे घेर लिया और तमंचा सटाकर उससे लगभग बीस हजार रुपये और सोने की चैन लेकर चम्पत हो गये घटना के बाद पीड़ित मुसाफिरखाना कोतवाली पहुंचा और आपबीती बतायी वही मुसाफिरखाना पुलिस ने बताया कि पीड़ित की तहरीर के आधार पर मामला दर्ज कर जाँच की जा रही है ।

वारादात :- 2

दूसरी वारदात अमेठी जिले के गौरीगंज थाना अंतर्गत लोदी बाबा पुल के पास की है जहाँ आज सुबह करीब 10:30 बजे बेखौफ बदमाशों ने आज दिनदहाड़े पूर्व मंत्री भाजपा नेता जंगबहादुर सिंह के पेट्रोल पंप के सेल्समैन से बदमाशों ने गोली मारकर करीब चार लाख रुपया लूट लिया वारदात के बाद बदमाश फरार हो गए जबकि सेल्समैन को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है वारदात के बाद कई थानों की पुलिस को तैनात कर सघन चेकिंग अभियान चलाया गया लेकिन पुलिस को कोई सफलता हाथ नही लगी ।

सबसे बड़ा सवाल-

अमेठी में खाकी का खौफ खत्म होता जा रहा है कानून-व्यवस्था को ठेंगा दिखाते बदमाश बेखौफ हो गए हैं वारदात दर वारदात ने जनपदवासियों को दहला दिया है सरेराह और दिन दहाड़े लूट की बढ़ती घटनाओं ने अमेठी में सनसनी फैला दी है राह चलते हो रही घटनाओं ने तो लोगों को घर से निकलना दुश्वार कर दिया है पीड़ित परिजनों का हंगामा, राजनीतिक दलों का विरोध प्रदर्शन, विभागों का अल्टीमेटम किसी काम नहीं आ रहा है पुलिस सदैव बैकफुट पर ही नजर आई ऐसे में अपराधियों के हौसले और बुलंद हुए आला हाकिमों की फटकार का अधीनस्थों पर असर नहीं दिख रहा है यही हाल रहा तो लोग सड़क पर निकलने से गुरेज करेंगे ।

Report @ राम मिश्रा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *